Monday, June 14, 2010

सब से पहले आप सभी को मेरा सलाम

19 comments:

mrityunjay kumar rai said...

???????????????????????


visit my son"s Blog

http://madhavrai.blogspot.com/

संजय कुमार चौरसिया said...

aap ko bhi meri taraf se

salaam ka jabab, jai-ramji ki

http://sanjaykuamr.blogspot.com/

राज भाटिय़ा said...

आप का सलाम कबुल है जी, हमारा सलाम भी अब जल्दी से कोई अच्छा से लेख लिखो, ओर अब के जाना नही

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

फिर से स्वागत है,अपने इस आभासी परिवार में।
हम फिर कहेंगे। अब के इस तरह जाइएगा नहीं।

उम्मेद गोठवाल said...

आपका स्वागत है इस निराली ब्लॉग की दुनिया में..

अजय कुमार said...

सलाम और स्वागत भी

मोहन वशिष्‍ठ 9991428447 said...

namaskar ji welcome back

मोहन वशिष्‍ठ 9991428447 said...

namaskar ji welcome back

श्यामल सुमन said...

सुस्वागतम्।

सादर
श्यामल सुमन
09955373288
www.manoramsuman.blogspot.com

सतीश सक्सेना said...

कहाँ गायब हो गयी थीं, सब कुछ ठीक है ??

सुरेन्द्र Verma said...

AAPKE BLOG PAR COMMENTS KA AGIBO-GARIB SAMSYA HAI "CHUKI AAP EK MAHILA YA LADKI HAI" FEMALE NAAM YA PHOTO YE dono hi PUROOSH VARG KO JHAKJHOR DETI HAI CHAHE WAH KUROOP HO YA HOOR KI PARI.
Baharhaal main Bloger hoon isliye aapka salaam swikar hai....

महफूज़ अली said...

ओह! हो.... यहाँ लोग वेलकम बैक कर रहे हैं.... तो इसका मतलब आप ब्लॉग की दुनिया में पहले से ही हैं..... सुरेन्द्र वर्मा वैसे सही कह रहे हैं.... Anyways.... I also welcome(s) u.....hi hi hi hi....

राजीव तनेजा said...

स्वागत है

SELECTION - COLLECTION SELECTION & COLLECTION said...

मालिक्कुम सलाम!रख्शंदाजी !
March 7, २००८ को आपका पहला संदेश राष्ट्रय ब्लोगरो के नाम जो था .....

mere ahsaas......
hii
kai baar sochaa main bhi blogs likhun...par life ki koi na koi uljhan is soch ko bas soch hi rahne deti thi...pata nahi aaj kya huaa...yaad aaya.....kuchh baaten aisi huyi jinone likhne par majboor kar diyaa....kya baaten?
ab ye to likhti rahungi....actually dil mein kitni hi baten hoti hain...kitne ahsaas aapko chhoo kar guzar jaate hain...akbhi khushi ke kabhi dukh ke kabhi gussa kabhi nafrat...ham sochte hain, ulajhte hain aor phir normal bhi ho jate hain....aor kuchh hi palo mein bhool jaate hain ki chand lamhe pahle ham kya kya soch rahe they....lekin...kitna achha ho agar ham un khoobsoorat lamho ko blogs ki soorat hamesha ke liye samet liya karen...wt do u think?
socha to yahi hai..aajse ye pagal ladki kuchh aisa hi karegi...........
aaj ke liye bas itna hi....
if bhoole se kisi ne mujhe padha hai to please....write me...m i right or not??????



Monday, June 14, २०१०
आज फिर एक नए संदेश के साथ वापसी !!!
सब से पहले आप सभी को मेरा सलाम

सबसे पहले तो आपका हिंदी ब्लॉग परिवार में वापसी पर स्वागत है. यहा अक्शर नये लिखाडीऐ आते है, जाते है...फिर आते है..एक नई सोच...नई उमंग के साथ व् इस वायदे के साथ की अब वो डटे रहेंगे...हिलेंगे नही..... पर..?
हिंदी ब्लोग्कारी में कुछ hi लोग ही जो २००३-२००४ से जम्मे हुए है. आउट होने नाम नही ले रहे है. ब्लॉग जगत के सारे के सारे "फिरकी गेंदबाज" उन्हें आउट करने की नाकाम कोशिस करते रहे पर "फैविकोल" का मजबूत जोड़ लगा रखा है उन्होंने जो टूटने का नाम ही नही लेते !

शेष फिर कभी .....बाते करेंगे !

आपका यह ब्लोगिंग सफर आनंदकारी, मंगलकारी, शान्तिदायक एवं मन को प्रसंता देने वाला हो ऐसी दुआ रब से व् मेरे भगवानजी से ! नमस्ते ! जय हिंद !! जय महाराष्ट्र !!

Udan Tashtari said...

अरे वाह!! अच्छा लगा वापस देख कर...सलाम...शुभकामनाएँ.

नीरज गोस्वामी said...

सुस्वागतम...
नीरज

शिवम् मिश्रा said...

आपको भी सलाम और खुशामदीद !

डा० अमर कुमार said...

چلو۔ّ۔
دُآ سلام تو ہو چُکی !
اَب اِسکے آگے بھی کُچھ بولوگی۔۔ لِکھوگی ؟
یہ سب کُچھ کِتنا ایبنارمل لگ رہا ہے !
چںد لائینیں سہی، پر سِلسِلا جاری رہے !

Hindi7 Breaking News said...

Hello bloggers..

Hindi7 हिन्‍दी की पहली लाइफस्‍टाइल वेबसाइट है। जिसका उद्देश्‍य अपने सरल और अच्‍छे आर्टिकल से जिन्‍दगी के हर पहलू को छूना है। हमारी कोशिश ये है कि Hindi7 सिर्फ एक वेबसाइट बनकर न रहे बल्‍कि यह जिन्‍दगी जीने का अंदाज बन जाए|

Hindi7.com के साथ वालिएंटर की तरह जुड़ने के लिए हमे visit कीजिए| हमारी एडिटोरियल टीम शीघ्र आपसे संपर्क करेगी।